महाराष्‍ट्र के नेता विपक्ष राधाकृष्‍ण विखे के बेटे सुजय पाटील बीजेपी में शामिल, कांग्रेस को बड़ा झटका

मुंबई
लोकसभा चुनाव की तैयारी और रणनीति बनाने के लिए कांग्रेस कार्यसमिति (सीडब्ल्यूसी) की 58 साल बाद गुजरात में अहम बैठक चल रही है और इस बीच महाराष्ट्र में पार्टी को बड़ा झटका लगा है। महाराष्‍ट्र कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता और नेता प्रतिपक्ष राधाकृष्‍ण विखे पाटील के बेटे सुजय विखे पाटील मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) में शामिल हो गए। बीजेपी में शामिल होने के बाद सुजय ने पार्टी नेताओं की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी चीफ अमित शाह का इसके लिए शुक्रिया अदा करते हैं।

सुजय ने कहा, ‘मैंने यह फैसला अपने पिता के खिलाफ लिया है। मुझे नहीं पता कि मेरे पैरंट्स इस फैसले का कितना समर्थन करेंगे, लेकिन बीजेपी के नेतृत्व में मैं अपना सबकुछ झोंक दूंगा ताकि मेरे माता-पिता गर्व महसूस कर सकें। सीएम (देवेंद्र फडणवीस) और बीजेपी विधायकों ने मेरे इस फैसले का पूरा समर्थन किया।’

बाद में देवेंद्र फडणनवीस ने इस मौके पर कहा, ‘राज्‍य इकाई ने सुजय विखे पाटील का नाम लोकसभा की उम्‍मीदवारी के लिए केंद्रीय संसदीय बोर्ड के पास भेज दिया है। हमें उम्‍मीद है कि केंद्रीय संसदीय बोर्ड उनकी उम्‍मीदवारी को मंजूर कर लेगा।’

कई और नेता भी हो सकते हैं बीजेपी में शामिल 
सुजय विखे पाटील के बीजेपी में शामिल होने के साथ ही अहमदनगर से कई अन्य प्रमुख नेता और विधायक बीजेपी में शामिल हो सकते हैं। मौजूदा संकेतों के अनुसार, सुजय विखे पाटील को शायद अहमदनगर लोकसभा सीट से ही चुनाव लड़वाया जा सकता है। अहमदनगर को प्रसिद्ध विखे-पाटील परिवार का गढ़ माना जाता है और सुजय इस परिवार की चौथी पीढ़ी हैं।

बीजेपी नेता गिरीश महाजन से मिले थे सुजय
इससे पहले ऐसी खबरें थीं कि बीजेपी नेता गिरीश महाजन ने सुजय से हाल ही में मुलाकात कर बीजेपी में उनके शामिल होने पर चर्चा की थी। सुजय अहमदनगर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ना चाहते थे।

इस बारे में सुजय ने कहा था, ‘मैं पिछले दो साल से लोकसभा चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहा हूं। चाहे यह सीट कांग्रेस को मिले या न मिले लेकिन मैं यहीं से चुनाव लडूंगा।’ लेकिन शरद पवार की अगुआई वाली एनसीपी के अहमदनगर सीट कांग्रेस को देने से इनकार करने के बाद सुजय का बीजेपी में आना तय माना जा रहा था।

राधाकृष्‍ण पाटील ने भी शरद पवार से अहमदनगर सीट अपने बेटे सुजय को देने के लिए मनाने की कोशिश की थी, लेकिन शरद पवार ने इससे इनकार कर दिया। एनसीपी का सुझाव था कि अगर सुजय चाहें तो वह अहमदनगर से एनसीपी के उम्‍मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ सकते हैं।

Post Author: Administrator

Leave a Reply